Wednesday, October 4, 2017

Home Remedies -घर बैठे मर्दों की शारीरिक कमजोरी को जड़ से मिटाने के अचूक उपाय !

आज कल के फ़ास्ट फ़ॉरवर्ड लाइफ मे लोगों को कई तरह की परेशानियों का सामना करना पड़ता है ! इन सब का करण है स्ट्रेस और सही पोस्टिक खाना ना मिल पाना ! ये परेशानी शारीरिक और मानसिक दोनों तरह से हो सकती है ! इस आर्टिकल मे हम बात करेंगे पुरुषों के फ़िज़िकल कमजोरी , प्रोब्लेम्स और उनका समाधान !



बचनप मे हुई छोटी गलतियों या अधिक हस्तमैथुन से बहुत से मर्दों को शारीरिक कमजोरियों का सामना करना पड़ता है जिससे उनके वैवाहिक जीवन मे बहुत परेशानियां आती रहती है !अगर आप भी ऐसे समस्या से झुंझ रहे है तो ये कुछ घरेलु नुस्खे ज़रूर अपनाये और देखे फर्क! इस नुस्खे से आपका दुबला शरीर भी शक्तिशाली बन सकता है ! और ना सिर्फ आपका शरीर सुदृढ़ होगा बल्कि आपकी वीर्य सम्बंधित सभी समस्याए का भी हल मिलेगा follow these Home Remedies  !

उड़द – अगर आपकी पाचन प्रक्रिया अच्छी हैं तो उड़द आपके लिए रामबाण का काम कर सकती है । उड़द के लड्डू, उड़द की दाल, दूध में बनाई हुई उड़द की खीर का सेवन करने से वीर्य की बढ़ोतरी होती है और संभोग शक्ति बढ़ती है।


तालमखाना – तालमखाना ज्यादातर धान के खेतों में पाया जाता है इसे लेटिन भाषा में एस्टरकैन्था-लोंगिफोलिया कहते हैं। वीर्य के पतले होने , शीघ्रपतन रोग में, स्वप्नदोष होने पर, शुक्राणुओं की कमी होने पर रोजाना सुबह और शाम लगभग 3-3 ग्राम तालमखाना के बीज दूध के साथ लेने से लाभ होता है। इससे वीर्य गाढ़ा हो जाता है।


गोखरू – गोखरू का फल कांटेदार होता है और औषधि के रूप में यूज़ किया जाता है। बारिश के मौसम में यह हर जगह पर पाया जाता है। नपुंसकता रोग में गोखरू के लगभग 10 ग्राम बीजों के चूर्ण में इतने ही काले तिल मिलाकर 250 ग्राम दूध में डालकर आग मे पका लें। पकने पर इसके खीर की तरह गाढ़ा हो जाने पर इसमें 25 ग्राम मिश्री का चूर्ण मिलाकर सेवन करे । इसका सेवन नियमित रूप से करने से नपुसंकता रोग में बहुत ही लाभ होता है।

मूसली – मूसली पूरे भारत में सभी जगह पाई जाती है। यह सफेद और काली दो प्रकार की होती है। काली मूसली से ज्यादा गुणकारी सफेद मूसली मे होती है। यह वीर्य को गाढ़ा करने मे मदद करती है ।मूसली के चूर्ण को लगभग 3-3 ग्राम की मात्रा में सुबह और शाम दूध के साथ पिने से वीर्य की बढ़ोत्तरी होती है और शरीर में काम-उत्तेजना की वृद्धि होती है।


पीपल – पीपल का फल और पीपल की कोमल जड़ को बराबर मात्रा में लेकर उसका चटनी बना लें। उस 2 चम्मच चटनी को 100 मि.ली. दूध तथा 400 मि.ली. पानी में मिलाकर उसे लगभग उसका चौथाई भाग होने तक पकाएं रहे । फिर उसे छानकर आधा कप सुबह और शाम को पी लें। इसके इस्तेमाल करने से वीर्य में तथा सेक्स करने की ताकत में वृद्धि होती है।




SHARE THIS
Loading...

0 comments: